Aarogya Setu Mobile App क्या है? इसे इस्तेमाल कैसे करें !

30
960
Aarogya setu app kya hai
Aarogya setu app kya hai

Aarogya Setu Mobile App क्या है?




इस article के माध्यम से आपको Aarogya Setu Mobile App के बारे में बताएंगे, आपको यह भी बताएंगे कि इस Mobile App की आवश्यकता क्यों पड़ी, साथ ही इसको प्ले स्टोर से कैसे डाउनलोड करें और इसका उपयोग कैसे करें।

दोस्तों Aarogya Setu Mobile App की कुछ महत्वपूर्ण बातें भी आप लोगों के साथ साझा की करेंगे यह ऐप कितना सुरक्षित तथा सुविधाओं से भरपूर है। आइए आपको इसके बारे में विस्तृत जानकारी देते हैं:-

आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप की आवश्यकता

Aarogya Setu Mobile App की आवश्यकता क्यों पड़ी क्योंकि पूरी दुनिया में Corona Virus का प्रकोप प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है।

इसकी रोकथाम के लिए भारत सरकार ने एक विशेष कदम उठाया, यह कदम डिजिटल प्लेटफॉर्म प्रदान करता है, इसके साथ Corona Virus की रोकथाम के लिए एक आवश्यक तथा विशेष एप्लीकेशन डिजाइन की गई है,

इसका नाम ‘Aarogya Setu Mobile App रखा गया है। यह एक सरकारी Mobile App है, Corona Virus जिस तेजी से पूरी दुनिया में फैल रहा है तथा भारत में भी कोरोना वायरस ने पैर पसार चुका है,

लगभग भारत में 3000 से ज्यादा कंफर्म केस हो चुके हैं तथा 80 से ज्यादा लोग इसकी चपेट में आकर मर चुके हैं। आज पूरी दुनिया में इस वायरस से लड़ना एक चुनौती बन चुकी है, इस चुनौती का सामना करने के लिए भारत सरकार ने यह डिजिटल प्लेटफॉर्म अपनाया है।

क्या है Corona Virus !

Corona एक Virus है, जो काफी तेजी से फैलता है। यह वायरस एक दूसरे के संपर्क में आने के वजह से फैलता है। इस वायरस से प्रभावित व्यक्ति को सांस लेने में तकलीफ, बुखार आदि लक्षण दिखाई देते हैं।




Corona Virus यानी कोविड-19 से बचने के लिए नियमित रूप से आपको साबुन और स्वच्छ पानी से हाथ नियमित रूप से धोना चाहिए।

COVID-19 से संक्रमित व्यक्ति खासता या छीकता है तो उसके थूक में बेहद बारीक कण हवा में निकलते हैं, इन कणों में Corona Virus के विषाणु मौजूद होते हैं, इसीलिए इन सब गतिविधियों के दौरान हमें मास्क पहन कर रहना चाहिए।

जब भी हम बाहर जाए तो चेहरे तथा कान आदि को बार-बार ना छुए क्योंकि यह विषाणु युक्त कण आपके सांस के माध्यम से आपके शरीर में प्रवेश कर लेते हैं

दुनिया भर में लगभग 1100000 लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं तथा 64000 लोगों की मौत हो चुकी है यह आंकड़ा प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है।

क्या है Aarogya Setu Mobile App !

दोस्तों यह एक एंड्राइड Mobile App है, जिसको भारत सरकार ने लॉन्च किया है। यह एक Corona Virus संक्रमित लोगों के लोकेशन को ट्रैक करने का डिजिटल प्लेटफॉर्म है।

इस प्लेटफार्म के जरिए लोग, संक्रमित लोगों के संपर्क में नहीं आएंगे। इस मोबाइल ऐप के माध्यम से अपनी कुछ बेसिक जानकारी भरकर अपने आसपास के क्षेत्र में संक्रमित लोगों की संख्या तथा उनका प्रभाव क्षेत्र के बारे में जान सकेंगे।

Aarogya Setu Mobile App Kya Hai?

इस Mobile  के द्वारा हम Corona Virus संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए जिन लोगों को इस तकनीक के माध्यम से उन पर सरकार द्वारा नजर रखने के लिए यह तकनीक निजात की गई है इस तकनीक के माध्यम से COVID-19 संक्रमित लोगों के मूवमेंट पर भी नजर रखी जा सकती है।




Aarogya Setu Mobile App बेसिक इंफॉर्मेशन

Updated – April 2, 2020
Size – 3.6M
Installs – 10,000,000+
Current Version – 1.0.1
Requires Android – 6.0 and up
Content Rating – Rated for 3+
Offered by – NIC eGov Mobile Apps

Aarogya Setu Mobile App इस्तेमाल करने का तरीका

दोस्तों हम आपको Aarogya Setu Mobile App को कैसे डाउनलोड करके उसका कैसे इस्तेमाल करें उसके बारे में विस्तृत जानकारी देंगे इसे आप स्टेप बाय स्टेप सीख सकते हैं। जो निम्नलिखित है:-

इस Mobile App को आपको सबसे पहले प्ले स्टोर में आरोग्य सेतु सर्च करना होगा, ध्यान रहे की आरोग्य और सेतु के बीच में कोई स्पेस ना रहे, आपको यह मोबाइल ऐप बड़े आसानी से सर्च इंजन में दिखाई देगा।

इसे इंस्टॉल की बटन पर क्लिक करके डाउनलोड करें लगभग इसका साइज 2.4 एमबी का है।

इस Mobile App को खोलते ही आपके सामने भाषा चुनने का विकल्प आएगा, जिसमें आप अपनी पसंदीदा भाषा चुन सकते हैं, भाषा चुनने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, जिसमें कुछ इंफॉर्मेशन रहेंगे उसे पढ़कर रजिस्टर नाउ बटन पर क्लिक करें।

 

Aarogya Setu Mobile App Kya Hai?

 

रजिस्टर की प्रोसेस में आपको अपना मोबाइल नंबर डालना है, उसके बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक OPT आएगा, जिसे आप OPT वाले कॉलम में भर देंगे, उसके बाद आपका मोबाइल नंबर वेरीफाई हो जाएगा.




Aarogya Setu Mobile App Kya Hai?

 

मोबाइल नंबर वेरीफाई होने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपका नाम उम्र आपका पैसा और पिछले 30 दिनों के दौरान विदेश यात्रा के बारे में पूछताछ करेगा यह फॉर्म बड़े ध्यान से भरे.

 

Aarogya Setu Mobile App Kya Hai?

इस ऐप को चलाने के लिए ब्लूटूथ और जीपीएस डाटा की जरूरत पड़ेगी। इस Mobile App को काम करने के लिए आपके लोकेशन डाटा की भी जरूरत पड़ेगी, आप इससे भयभीत ना हो यह पूरी तरीके से सुरक्षित और आवश्यक कदम है।

इसके बाद आप इस Mobile App के द्वारा अपने आप को सुरक्षित तथा अपने आसपास के क्षेत्र पर निगरानी रख सकते हैं, अब यह मोबाइल ऐप आपके इस्तेमाल करने के लिए तैयार है।




कैसे दिखाई देता है आसपास का खतरा

इस ऐप में Corona Virus से खतरा दो रंगों में दिखाई देता है हरा और पीला जो विभिन्न कोणों में अपने जोखिम के स्तर को दिखाता है और साथ ही यह सुझाव भी देता है कि आपकी तरह सुरक्षित है और आपको कोई खतरा है या नहीं है इसके लिए आपको सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की आवश्यकता पड़ेगी।

Aarogya Setu Mobile App Kya Hai?

इस Mobile App में हरे रंग का सिग्नल सुरक्षित एरिया सुनिश्चित करता है तथा पीले रंग का कलर असुरक्षित तथा अधिक रिस्की एरिया सुनिश्चित करता है।

यदि पीले रंग का सिग्नल मिलता है तो आप हेल्पलाइन में संपर्क कर सकते हैं।

अपना आकलन कैसे करें

Aarogya Setu Mobile App पर सेल्फ एसेसमेंट टेस्ट फीचर का इस्तेमाल करके आप अपना आकलन कर सकते हैं।

इसमें आप क्लिक करें और फिर अपने चैट विंडो के माध्यम से अपने लक्षणों से जुड़े हुए कुछ सवालों का जवाब दें और सारी लक्षण सही बताएं

इससे आपका सेल्फ एसेसमेंट टेस्ट कंप्लीट होगा। इससे आपको यह पता चल जाएगा कि आप Corona Virus से पॉजिटिव है या नेगेटिव है।

Aarogya Setu Mobile App की प्राइवेसी के महत्वपूर्ण बिंदु

1.यह मोबाइल है भारत सरकार द्वारा पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के जरिए तैयार किया गया है।
2.यह ऐप ब्लूटूथ तथा जीपीएस के माध्यम से इस्तेमाल किया जा सकता है।
3.यदि यह मोबाइल है आपके आसपास किसी भी व्यक्ति ने इंस्टॉल करके रखा है तो हम जीपीएस लोकेशन के मदद से यह पता लग सकते हैं कि उसके संपर्क मी कितना खतरा है या नहीं।
4.यह Mobile App में 11 भाषाएं मौजूद है लोग अपने अनुसार इस भाषा का इस्तेमाल कर सकते हैं।
5.इसमें लगातार कोरोना वायरस से संबंधित अपडेट्स की सूचनाएं मिलते रहती है।
6.इस Mobile App को अभी तक 30 लाख लोगों ने डाउनलोड कर चुके हैं।

दोस्तों Aarogya Setu Mobile App के बारे में दी गई जानकारी आपके लिए महत्वपूर्ण तथा आवश्यक है आशा करता हूं कि आप इस

जानकारी का फायदा उठाएंगे तथा अपने आसपास के लोगों को भी जागरूक करेंगे.




 

30 COMMENTS

  1. We spent a lot of time at her home. Maybe so her mother could keep an eye on us. Mrs. Spencer made sure to be around, offering drinks, snacks, chit chat. I noticed that she was fairly young herself. Granted at my age, anyone over 25 was old, but she was probably mid-30s, divorced. If she was a indiction of how Carley would develop, maybe I should wait. Mrs. Spencer had fuller breasts and a nice butt. She appeared to be in great shape for her “advanced” age. I knew she was keeping an eye on me as much as I was on her and her younger daughter. Her eldest, Sharon was away at college at the time. With Mrs. Spencer around we mostly limited ourselves to holding hands and sneaking in a few light kisses. One day Mrs. Spencer caught us by surprise walking in as I’d slid my hand up from Carley’s stomach to rub her right breast through her shirt. She didn’t really need a bra yet, so I could feel her nipple, hard, through her shirt. Just this much contact had me hard also.

    https://sites.google.com/view/M33TW8SAyuivD6in https://sites.google.com/view/PdWF3VmzIQ3kkCn7

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

CommentLuv badge